हिंदी के माथे की बिंदी बन चमक रहीं युवा रचनाकार, विदेशों तक में हैं बेहद लोकप्रिय

0
36
कानपुर में 226 नए पॉजिटिव मिले

हिंदी के माथे की बिंदी बन चमक रहीं युवा रचनाकार, विदेशों तक में हैं बेहद लोकप्रिय
लखनऊ की युवा कवयित्रियां और लेखिकाएं भी हिंदी के उत्थान में अपना अमूल्य योगदान दे रही हैं। कविता तिवारी और शिखा श्रीवास्तव जैसी कवयित्रियां तो देशभर में ही नहीं, विदेशों तक में अपनी रचनाओं से बेहद लोकप्रिय हैं।

Source

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here