मुकेश खन्‍ना बोले- कोरोना के कारण मैं फ्लैट में ही रहता हूं मगर लोग पार्टी किए बिना नहीं रह सकते हैं

भीष्म पितामह और शक्तिमान जैसे रोल निभाकर घर-घर में मशहूर हुए ऐक्‍टर मुकेश खन्ना ने कोविड संबंधी नियमों का बेहद सख्ती से पालन किया है। वह कोरोना काल में एक दिन के लिए भी अपने घर से बाहर नहीं निकले हैं। हाल ही में उन्‍होंने बताया कि सोशल डिस्‍टेंसिंग कितनी जरूरी है और अब चूंकि वैक्सीन आ गई है, इसलिए लोगों को आराम से बिना किसी खौफ के घर से निकल नहीं जाना चाहिए क्‍योंकि कोरोना का खतरा अभी भी है।

बॉम्बे टाइम्स के साथ बातचीत में मुकेश खन्‍ना ने कहा, ‘पिछले साल मार्च में जब देशभर में लॉकडाउन लगाया गया, तब से लेकर आज तक मैं कांदिवली स्थित अपने फ्लैट से बाहर नहीं निकला हूं। मैं या तो अपने टेरेस पर चला जाता हूं या फिर अपनी बिल्डिंग के कंपाउंड में ही रहता हूं।’

बेसब्र होने की जरूरत नहीं ऐक्‍टर ने कहा, ‘मैंने पिछले 11 महीनों से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया है और अपने घर पर ही रहा हूं। मेरा मानना है कि जब देश और महामारी से हमें आगाह किया जा रहा है तो बेसब्र होने की जरूरत क्या है?’

बॉलिवुड स्‍टार के साथ ऐड करने का मौका गंवायामुकेश खन्ना के मुताबिक, ‘मुझे एक बॉलिवुड स्टार के साथ ऐड फिल्म करने का मौका मिला था और इसे हाथ से जाने देना पड़ा क्योंकि मुझे नहीं लगा कि जब देशभर में महामारी के हालात हैं तो ऐसे में बाहर जाकर शूटिंग करना सुरक्षित होगा। मुझे लगा कि अगर आप बाहर जाकर लोगों से मिलेंगे तो आपको वायरस से संक्रमित होने की प्रबल संभावनाएं हैं। मुझे लगता है कि लोगों को घरों में रहना चाहिए और अगर बहुत जरूरी नहीं है तो अपने घरों से नहीं निकलना चाहिए।’

पार्टी किए बिना नहीं रह सकते लोग
मुकेश खन्ना ने कहा, ‘मैंने देखा है कि लोग किस तरह सोशल हुए बिना नहीं रह सकते हैं। उनके लिए पार्टी करने की जरूरत इतनी ज्यादा है। मैं उन लोगों के खिलाफ नहीं हूं जो पार्टी करते हैं लेकिन जब महामारी फैली है तो इस तरह की पार्टियों और सोशलाइजिंग को अवॉइड किया जाना चाहिए।’

Click Here to read more here

पूरी खबर पढने के लिए यहाँ क्लिक करें |

Leave a Reply