मिर्जापुर की बिटिया बनी मिसेज इंडिया, गांव में जश्न का माहौल

मिर्जापुर जिले के हैदराबाद में आयोजित फैशन शो में मिसेज इंडिया का खिताब जीतकर गुंजन विश्वकर्मा ने मिर्जापुर जिले का नाम रोशन किया है। उनकी जीत पर उनके गांव में खुशी का माहौल है। वह चुनार तहसील के गौरा गांव की रहने वाली हैं

गौरा गांव निवासी गुंजन विश्वकर्मा(26) पुत्री जय प्रकाश विश्वकर्मा ने हैदराबाद में आयोजित फैशन शो में मिस इंडिया का खिताब हासिल कर क्षेत्र का नाम रोशन किया है। गुंजन ने काशी हिंदू विश्वविद्यालय (वाराणसी) से वर्ष 2016 में स्नातक की डिग्री प्राप्त की। इसके बाद बाद वर्ष 2020 में चंदौली जिले के पड़ाव स्थित एंबीशन ऑफ टेक्नोलॉजी से फैशन डिजाइनिंग डिप्लोमा हासिल किया।

दो फरवरी 2019 को गुंजन की शादी बिहार के पटना भोजपुर जिले के डीहिया निवासी अमित विश्वकर्मा से हुई। गुंजन ने हैदराबाद में आयोजित तीन दिवसीय फैंशन प्रतियोगिता में प्रतिभाग कर शनिवार की रात को मिस इंडिया का खिताब हासिल किया। गुंजन के पिता एंबीशन आफ टेक्नोलॉजी में लैब टेक्निशियन के पद पर कार्यरत हैं, जबकि माता  नीलम विश्वकर्मा गृहणी हैं।

छोटा भाई शौर्य विश्वकर्मा इंटर का छात्र है। एक छोटी बहन अनामिका मास्टर ऑफ आर्ट्स की डिग्री हासिल कर बीएमसी कोंचिग कॉलेज वाराणसी में काउंसलर के रूप में कार्यरत है। क्षेत्र की बिटिया की इस सफलता पर लोगों में हर्ष व्याप्त है।

 

जिले के चुनार तहसील के गौरा गांव की लाडली गुंजन विश्वकर्मा ने मिसेज इंडिया का खिताब जीत कर जिले का नाम देश में रोशन किया है। गांव में बिटिया की उपलब्धि पर जश्न जैसा माहौल है। फैशन शो मिस इंडिया 2021 हैदराबाद में हुई फाइनल प्रतियोगिता का गुंजन विश्वकर्मा को विजेता घोषित किया गया। काशी हिन्दू विश्व विद्यालय से 2016 में स्नातक की डिग्री हासिल की है। 2020 में पड़ाव (चंदौली ) स्थित एंबीशन पालीटेक्निक कालेज से फैशन डिजाइनिंग की डिप्लोमा पूरी की। इससे एक साल पहले वर्ष-2019 में गुंजन का विवाह बिहार के भोजपुर जिले के डीहिया गांव निवासी अमित विश्वकर्मा से हुई। गुंजन ने हैदराबाद में आयोजित फैशन शो प्रतियोगिता में भाग लिया। गुंजन विश्वकर्मा (26) विनर का पुरस्कार अपने नाम करने में सफल रहीं। साथ ही गुंजन को मिस ब्यूटीफुल बॉडी का अवार्ड मिला है। गुंजन के पिता जय प्रकाश विश्वकर्मा एंबीशन कालेज में लैब टेक्निशियन हैं तो मां नीलम विश्वर्मा गृहणी,छोटा भाई शौर्य 12 वीं का छात्र है जबकि छोटी बहन एमए कर वाराणसी की एक कोचिंग में काउंसलर हैं।

Leave a Reply