समाचार सुनें समाचार सुनें अयोध्या। रामनगरी भी शिव की पूजा का प्रमुख केंद्र है। यह महाशिवरात्रि के त्योहार में भी परिलक्षित होता है। मंगलवार को महाशिवरात्रि का पर्व मनाया जाएगा। इस मौके पर रामनगरी में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ जमा होने की संभावना को देखते हुए प्रशासन ने रामनगरी अयोध्या में चौपहिया वाहनों के प्रवेश पर रोक लगा दी है. रामनगरी के शिव मंदिरों को शिवरात्रि के लिए सजाया गया है, कई शिव मंदिरों में भी अनुष्ठान शुरू हो गए हैं। श्रीराम की आराधना में लीन अयोध्या भी शिव की आराधना में लीन हो गया है। आसपास के जिलों से बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचेंगे और ऐतिहासिक शिव मंदिरों में जलाभिषेक, दूध-अभिषेक, भगवान भोलेनाथ की पूजा कर अपनी आस्था का परिचय देंगे। इसके लिए जिले भर के शिवालयों को सजाया और सजाया गया है। प्रशासन ने व्यवस्था को अंतिम रूप दे दिया है। महाशिवरात्रि पर्व पर रामनगरी में आसपास के जिले बस्ती, गोंडा, हरैया, नवाबगंज सहित शहर के ग्रामीण अंचलों से भारी संख्या में श्रद्धालु जुटेंगे. इस संबंध में रामनगरी की सुरक्षा कड़ी कर रूट डायवर्जन लागू किया जाएगा। एसपी सिटी विजयपाल सिंह ने बताया कि मंगलवार को मुख्य मार्ग पर चार पहिया वाहनों का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा. स्नान घाटों पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए जा रहे हैं, नागेश्वरनाथ समेत अन्य शिव मंदिरों पर सीसीटीवी से नजर रखी जाएगी. हर साल की तरह नागेश्वरनाथ मंदिर से भव्य शिव बारात निकाली जाएगी। नागेश्वर मंदिर में इसकी तैयारियां जोरों पर चल रही हैं। शोभायात्रा में ब्रह्मा, विष्णु, इंद्रादिक देवताओं की भव्य झांकी और लोकनृत्य आकर्षण का केंद्र रहेंगे. बारात रात आठ बजे रवाना होगी और मुख्य मार्ग से होते हुए क्षीरेश्वरनाथ मंदिर पहुंचेगी. जहां जुलूस का भव्य स्वागत किया जाएगा और श्रद्धालुओं को प्रसाद बांटा जाएगा. इस बार महाशिवरात्रि पर दुर्लभ पंचयोग बन रहा है। आचार्य शिवेंद्र ने बताया कि इस शिवरात्रि पर पंच योग चतुर्दशी, मंगलवार, धनिष्ठा नक्षत्र और शिव योग के दुर्लभ संयोग के कारण विशेष फलदायी रहेगा. शिव पुराण के अनुसार इस दिन पूजा करने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। 1 मार्च को सुबह 3.16 बजे से शिवरात्रि शुरू होगी. चार प्रहर की पूजा का समय शाम को शुरू होगा. पहला पहर शाम 7.07 बजे, दूसरा प्रहार रात 9.13 बजे शुरू होगा। तीसरा प्रहर दोपहर 12.08 बजे और चौथा प्रहर दोपहर 3.24 बजे शुरू होगा। अयोध्या। रामनगरी भी शिव की पूजा का प्रमुख केंद्र है। यह महाशिवरात्रि के त्योहार में भी परिलक्षित होता है। मंगलवार को महाशिवरात्रि का पर्व मनाया जाएगा। इस मौके पर रामनगरी में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ जमा होने की संभावना को देखते हुए प्रशासन ने रामनगरी अयोध्या में चौपहिया वाहनों के प्रवेश पर रोक लगा दी है. रामनगरी के शिव मंदिरों को शिवरात्रि के लिए सजाया गया है, कई शिव मंदिरों में भी अनुष्ठान शुरू हो गए हैं। श्रीराम की आराधना में लीन अयोध्या भी शिव की आराधना में लीन हो गया है। महाशिवरात्रि के मौके पर मंगलवार को रामनगरी में हर हर महादेव की गूंज होगी। आसपास के जिलों से बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचेंगे और ऐतिहासिक शिव मंदिरों में जलाभिषेक, दूध-अभिषेक, भगवान भोलेनाथ की पूजा कर अपनी आस्था का परिचय देंगे। इसके लिए जिले भर के शिवालयों को सजाया और सजाया गया है। प्रशासन ने व्यवस्था को अंतिम रूप दे दिया है। महाशिवरात्रि पर्व पर रामनगरी में आसपास के जिले बस्ती, गोंडा, हरैया, नवाबगंज सहित शहर के ग्रामीण अंचलों से भारी संख्या में श्रद्धालु जुटेंगे. इस संबंध में रामनगरी की सुरक्षा कड़ी कर रूट डायवर्जन लागू किया जाएगा। एसपी सिटी विजयपाल सिंह ने बताया कि मंगलवार को मुख्य मार्ग पर चार पहिया वाहनों का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा. स्नान घाटों पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए जा रहे हैं, नागेश्वरनाथ समेत अन्य शिव मंदिरों पर सीसीटीवी से नजर रखी जाएगी. हर साल की तरह नागेश्वरनाथ मंदिर से भव्य शिव बारात निकाली जाएगी। नागेश्वर मंदिर में इसकी तैयारियां जोरों पर चल रही हैं। शोभायात्रा में ब्रह्मा, विष्णु, इंद्रादिक देवताओं की भव्य झांकी और लोकनृत्य आकर्षण का केंद्र रहेंगे. बारात रात आठ बजे रवाना होगी और मुख्य मार्ग से होते हुए क्षीरेश्वरनाथ मंदिर पहुंचेगी. जहां जुलूस का भव्य स्वागत किया जाएगा और श्रद्धालुओं को प्रसाद बांटा जाएगा. इस बार महाशिवरात्रि पर दुर्लभ पंचयोग बन रहा है। आचार्य शिवेंद्र ने बताया कि इस शिवरात्रि पर पंच योग चतुर्दशी, मंगलवार, धनिष्ठा नक्षत्र और शिव योग के दुर्लभ संयोग के कारण विशेष फलदायी रहेगा. शिव पुराण के अनुसार इस दिन पूजा करने से सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। 1 मार्च को सुबह 3.16 बजे से शिवरात्रि शुरू होगी. चार प्रहर की पूजा का समय शाम को शुरू होगा. पहला पहाड़ शाम 7.07 बजे से, दूसरा प्रहार रात 9.13 बजे शुरू होगा। तीसरा प्रहर दोपहर 12.08 बजे और चौथा प्रहर दोपहर 3.24 बजे शुरू होगा. ,

UttarPradeshLive.Com Home Click here

( News Source – News Input – Source )

( मुख्य समाचार स्रोत – स्रोत )

Subscribe to Our YouTube, Instagram and Twitter – TwitterYoutube and Instagram.

Leave a Reply