भोजपुरी में पढ़िए – अस्लील दुअर्थी के साथ उन्मादी गीत-कविता से निबटे के पड़ी

0
48
कानपुर में 226 नए पॉजिटिव मिले

भोजपुरी में पढ़िए – अस्लील दुअर्थी के साथ उन्मादी गीत-कविता से निबटे के पड़ी
पिछिलका तीन दसक से अस्लील,द्विअर्थी आ स्त्री बिरोधी गीतन से बदनाम कईला के बाद अब भोजपुरी के गीतकार—गायक कलाकारन के एगो जमात एकरा के उन्मादी भाषा के रूप में बदरंग करे में लागल बा.

Source

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here