समाचार सुनें बाराबंकी समाचार सुनें। छह विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ रहे 51 उम्मीदवारों में से छह उम्मीदवारों ने व्यय समिति को चुनावी खर्च का लेखा-जोखा नहीं दिया है. प्रमुख दलों के उम्मीदवारों द्वारा खर्च की गई राशि की बात करें तो जैदपुर सीट से कांग्रेस उम्मीदवार तनुज पुनिया सबसे अधिक 26 लाख से अधिक की राशि खर्च कर सूची में सबसे ऊपर हैं. दूसरे नंबर पर बाराबंकी सदर से बीजेपी प्रत्याशी डॉ. रामकुमारी मौर्य 20 लाख से ज्यादा खर्च कर चुकी हैं. यह राशि बड़े नेताओं की जनसभा के साथ वाहनों आदि पर खर्च की गई है. मतदान की तारीख यानी 27 फरवरी से पहले सभी उम्मीदवारों को 16, 21 और 25 फरवरी को व्यय प्रेक्षक के समक्ष चुनावी खर्च का लेखा-जोखा देना था. मतदान तिथि से दो दिन पहले यानी 25 फरवरी को जैदपुर से कांग्रेस प्रत्याशी तनुज पुनिया ने सर्वाधिक 26 लाख 22 हजार 195 रुपये खर्च किए हैं. वहीं सदर सीट से भाजपा की डॉ. रामकुमारी मौर्य ने 20 लाख 50 हजार 377 रुपये खर्च कर चुनाव लड़ा है. रुपये। इसी तरह रामनगर सीट से बीजेपी के शरद अवस्थी ने अपने अन्य प्रतिद्वंदियों को पीछे छोड़ते हुए सबसे ज्यादा 7 लाख 36 हजार 827 रुपये खर्च किए हैं. कुर्सी सीट की बात करें तो यहां सपा के राकेश वर्मा ने 12 लाख 89 हजार 893 रुपये खर्च किए जबकि यहां से भाजपा प्रत्याशी ने खर्च का हिसाब नहीं दिया. दरियाबाद सीट पर भाजपा के सतीश शर्मा ने सर्वाधिक 11 लाख 13 हजार 903 रुपये खर्च करने की जानकारी व्यय समिति को दी है. वहीं हैदरगढ़ सीट पर दिनेश रावत ने कहा है कि 12 लाख 14 हजार 979 रुपये की राशि चुनावी खर्च पर खर्च की जाएगी. शकेंद्र वर्मा, रामकिशोर शुक्ला, अशरफ खान, नीरज वर्मा, रामदयाल व गोपीचंद ने निर्धारित तिथि पर हिसाब नहीं दिया. अब सभी उम्मीदवारों को मतगणना की तिथि से 90 दिनों के भीतर व्यय लेखा प्रस्तुत करना होगा। प्रभारी लेखा एवं व्यय मनोज तिवारी ने बताया कि छह अभ्यर्थियों को छोड़कर अन्य सभी ने अपना लेखा-जोखा दिया है. बाराबंकी। छह विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ रहे 51 उम्मीदवारों में से छह उम्मीदवारों ने व्यय समिति को चुनावी खर्च का लेखा-जोखा नहीं दिया है. प्रमुख दलों के उम्मीदवारों द्वारा खर्च की गई राशि की बात करें तो जैदपुर सीट से कांग्रेस उम्मीदवार तनुज पुनिया सबसे अधिक 26 लाख से अधिक की राशि खर्च कर सूची में सबसे ऊपर हैं. दूसरे नंबर पर बाराबंकी सदर से बीजेपी प्रत्याशी डॉ. रामकुमारी मौर्य 20 लाख से ज्यादा खर्च कर चुकी हैं. यह राशि बड़े नेताओं की जनसभाओं के साथ-साथ वाहनों आदि पर खर्च की गई है. मतदान की तारीख यानी 27 फरवरी से पहले सभी उम्मीदवारों को 16, 21 और 25 फरवरी को व्यय प्रेक्षक के समक्ष चुनावी खर्च का लेखा-जोखा देना था. मतदान की तारीख से दो दिन पहले यानी 25 फरवरी को जैदपुर से कांग्रेस प्रत्याशी तनुज पुनिया सबसे ज्यादा 26 लाख 22 हजार 195 रुपये। जबकि सदर सीट से भाजपा की डॉ. रामकुमारी मौर्य ने 20 लाख 50 हजार 377 रुपये खर्च कर चुनाव लड़ा है। इसी तरह रामनगर सीट से बीजेपी के शरद अवस्थी ने अपने अन्य प्रतिद्वंदियों को पीछे छोड़ते हुए सबसे ज्यादा 7 लाख 36 हजार 827 रुपये खर्च किए हैं. कुर्सी सीट की बात करें तो यहां सपा के राकेश वर्मा ने 12 लाख 89 हजार 893 रुपये खर्च किए जबकि यहां से भाजपा प्रत्याशी ने खर्च का हिसाब नहीं दिया. दरियाबाद सीट पर भाजपा के सतीश शर्मा ने सर्वाधिक 11 लाख 13 हजार 903 रुपये खर्च करने की जानकारी व्यय समिति को दी है. वहीं हैदरगढ़ सीट पर दिनेश रावत ने कहा है कि 12 लाख 14 हजार 979 रुपये की राशि चुनावी खर्च पर खर्च की जाएगी. शकेंद्र वर्मा, रामकिशोर शुक्ला, अशरफ खान, नीरज वर्मा, रामदयाल व गोपीचंद ने निर्धारित तिथि पर हिसाब नहीं दिया. अब सभी उम्मीदवारों को मतगणना की तिथि से 90 दिनों के भीतर व्यय लेखा प्रस्तुत करना होगा। प्रभारी लेखा एवं व्यय मनोज तिवारी ने बताया कि छह अभ्यर्थियों को छोड़कर अन्य सभी ने अपना लेखा-जोखा दिया है. ,

UttarPradeshLive.Com Home Click here

( News Source – News Input – Source )

( मुख्य समाचार स्रोत – स्रोत )

Subscribe to Our YouTube, Instagram and Twitter – TwitterYoutube and Instagram.

Leave a Reply