कोविड-19 महामारी के दबाव में 1.8 करोड़ लोगों को बदलना पड़ेगा रोजगार का स्वरूप

कोविड-19 महामारी के दबाव से दुनियाभर में रोजगार का स्वरूप बदल रहा है। अगले एक दशक में अकेले भारत में ही 1.8 करोड़ लोगों को अपने रोजगार का स्वरूप बदलना होगा

Source link

Leave a Reply