कंगना रनौत ने कही अपने पिता को पलटकर थप्पड़ मारने की बात, लोग बोले- थू है आप पर

ने ट्विटर पर जमकर दिल की भड़ास निकालती हैं। इस बार उन्होंने अपनी लाइफ से जुड़ी कुछ बातें शेयर की हैं। उन्होंने कई ट्वीट्स किए हैं और अपने पिता से रिश्ते बिगड़ने वाली घटना का भी जिक्र किया है। इतना ही नहीं कंगना ने यह भी लिखा है कि उन्होंने पिता को थप्पड़ मारने की बात भी कही थी।

बताया जवानी के दिनों में पिता थे गुंडे
पहले ट्वीट में कंगना ने लिखा है, मेरे पिता के पास लाइसेंसी राइफल और बंदूकें थीं, बचपन के दिनों में वह डांटते नहीं थे बल्कि दहाड़ते थे, मेरी पसलियां तक कांप जाती थीं। जवानी के दिनों में वह कॉलेज में गैंगवॉर के लिए फेमस थे, जिसकी वजह से उन्हें गुंडे की पहचान मिली थी। मैं 15 साल की उम्र में उनसे लड़ी थी और घर छोड़ दिया था और 15 साल की उम्र में पहली बागी राजपूत महिला बन गई थी।

कंगना ने लिखा, सुधारने वाले को खुद सुधार दिया
दूसरे ट्वीट में कंगना लिखती हैं, यह चिल्लर इंडस्ट्री सोचती है कि सफलता मेरे दिमाग पर चढ़ गई है और वे मुझे ठीक कर सकते हैं, मैं हमेशा से बाघी थी बस सफल होने के बाद मेरी आवाज बुलंद हो गई है और आज मैं राष्ट्र की सबसे अहम आवाज हूं। इतिहास गवाह है जिसने मुझे सुधारने की कोशिश की मैंने उसे सुधार दिया।

पिता को कही पलटकर थप्पड़ मारने की बात
एक और ट्वीट में कंगना ने अपने पिता की फोटो के साथ लिखा है, मेरे पापा मुझे दुनिया का सबसे अच्छा डॉक्टर बनाना चाहते थे। उन्हें लगता था कि बेस्ट इंस्टिट्यूशंस में पढ़ाकर वह क्रांतिकारी पिता बन रहे हैं। जब मैंने स्कूल जाने से मना किया तो उन्होंने मुझे थप्पड़ मारने की कोशिश की, मैंने उनका हाथ पकड़ लिया और कहा, अगर आप मुझे थप्पड़ मारेंगे तो मैं भी पलटकर थप्पड़ मारूंगी।

कंगना ने लिखा, उसी दिन हुआ रिश्ते का अंत
कंगना आगे लिखती हैं, यह हमारे रिश्ते का अंत था, उनकी आंखों में कुछ बदला, उन्होंने मुझे देखा फिर मेरी मां को देखा और कमरे से चले गए, मुझे पता था कि मैंने लाइन पार कर दी है और उन्हें कभी वापस नहीं पा सकी लेकिन आप सोच सकते हैं कि बेड़ियां तोड़ने के लिए मैं किस हद तक जा सकती हूं, कोई मुझे बांधकर नहीं रख सकता।

Click Here to read more here

पूरी खबर पढने के लिए यहाँ क्लिक करें |

Leave a Reply