आरोपों से परेशान खेसारी लाल यादव बोले- मुझे दुसरा सुशांत बनाना चाहते हैं इंडस्ट्रूी के लोग

भोजपुरी इंडस्ट्री के सुपरस्टार खेसारी लाल यादव के फर्श से अर्श तक का सफर सभी जानते हैं। उन्होंने अपने संघर्ष के समय दूध और लिट्टी चोखा तक बेचा और मेहनत से आज इस मुकाम पर पहुंचे हैं कि उनकी फिल्में रीलिज होने पर थिएटर में हजारों लोगों की भीड़ लग जाती है और ज्यादातर फिल्में सुपरहिट होतीं हैं। खेसारी जितने अच्छे अभिनेता हैं उतने ही बेहतरीन गायक भी हैं।

संघर्षपूर्ण रहा खेसारी लाल का सफर
खेसारी लाल के फिल्मी सफर पर नज़र डाले तो उनका सफर बेहद संघर्षपूर्ण रहा है। साल 2011 में आई भोजपूरी फिल्म ‘साजन चले ससुराल’ से अपने सफर कि शुरूआत की थी और उनके पहले संगीत एलबम का नाम था ‘माल भेटे मेले में’। खेसारी ने संगीत के ज़रिए अपने सफर की शुरूआत की और उन्हें लोगों का प्यार भी मिला। इसी प्यार कि वजह से फिल्म निर्माताओं ने उन्हे अपनी फिल्म में अभिनय करने का मौका दिया। खेसारी लाल को बस इसी मौके कि तलाश थी और इसके बाद अपनी मेहनत के दम पर उन्होने फिल्मो और संगीत कि दुनिया में एक मुकाम हासिल किया और अपनी एक अलग पहचान बनाई।

शादी के बाद काजल राघवानी से जुड़ा नाम
इस पूरे सफर के दौरान खेसारी लाल का नाम भोजपूरी अदाकारा काजल राघवानी के साथ जोड़ा गया। यह अफवाह काफी चर्चा में थी कि खेसारी और काजल एक दूसरे के साथ प्रेम संबंध में है और यह खबर तब आई जब खेसारी की शादी हो चुकी थी, जिसके बाद खेसारी लाल ने साफ बताया कि उनके और काजल के बीच किसी भी तरह का कोई संबंध नही है।

दिल्ली की सड़को पर पत्नी के साथ लिट्टी चोखा बेचते थे
साल 2011 से लेकर अभीतक खेसारी लगभग 70 भोजपुरी फिल्मों में काम कर चुके हैं। उनके इस सफर में उनकी पत्नी चंदा देवी हर कदम पर उनके साथ थीं। खेसारी ने एक इंटरव्यू में बताया था कि 2006 में मेरी शादी हो गई थी, तब मैं 18-19 साल के था। तब मेरी पत्नी भी मेरे साथ दिल्ली आई और हम साथ में लिट्टी-चोखा बेचा करते थे। तब से आज तक वो हर सुख-दुख में मेरे साथ है।

स्वभाव से हैं सरल
खेसारी लाल के निजी ज़िदगी कि बात करे तो वह बेहद ही सरल स्वभाव के इंसान है। अपने संघर्ष के दिनो में वह छोटे मोटे समारोह में गाना गा कर अपना खर्चा चलाया करते थे। मुश्किल दौर में भी खेसारी ने हार नही मानी और आगे बढ़ते गए। आज खेसारी लाल यादव के इतने चाहनेवाले हैं कि उनकी फिल्म आने पर थिएटर में पहले से ही हजारों लोगों की भीड़ लग जाती है और उनकी ज्यादातर फिल्में हिट जाती हैं।

काजल राघवानी ने लगाए गंभीर आरोप
इन दिनों खेसारी कुछ आरोपों का सामना कर रहे हैं। भोजपुरी सिनेमा की मशहूर अभिनेत्री काजल राघवनी ने उनके उपर कुछ गंभीर आरोप लगाए हैं। एक्ट्रेस का आरोप है कि खेसारी उन्हें लोगों से गालिया दिलवा रहे हैं और बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं। काजल राघवानी इन आरोपों के बाद भोजपुरी इंडस्ट्री में खलबली मच गई है।

लाइव वीडियो में रोते दिखे खेसारी
18 फरवरी की सुबह खेसारी लाल ने फेसबुक पर एक वीडियाे पोस्‍ट किया, जिसमें उन्‍होंने कहा है कि उन्‍हें दूसरा सुशांत सिंह राजपूत बनाने की कोशिश की जा रही है। वह इस वीडियो में रोते नजर आ रहे हैं। हालाकिं खेसारी के फैंस ने इस वीडियो के नीचे कमेंट ल‍िखकर उनका हौसला बढ़ाने की कोशिश भी की। इस वीडियो को अब तक एक मिलियन से अधिक लोग देख चुके हैं और 5.6 हजार से अधिक लोग शेयर भी कर चुके हैं।

फेसबुक पर पोस्ट कर बतायी अपने दिल की बात
एक्टर ने हाल ही में अपने फेसुबक पर एक लाइव किया जिसमें उन्होंने कहा कि भोजपुरी इंडस्ट्री के लोग मेरे बारे में नहीं सोचते, लेकिन मैं जब से इस इंडस्ट्री में आया हूं तब से सबको कांटे की तरह चुभने लगा हूं। क्योंकि मेरे गाने हर जगह बजते हैं, मेरी फिल्में चलती हैं। पर कोई बात नहीं आप मुझे सुशांत की तरफ लेकर जाइए, मैं ऐसा कुछ नहीं करूंगा। लेकिन किसी को इतना भी मत सताओ कि वो आत्महत्या ही कर ले। जैसा हिंदी इंडस्ट्री ने सुशांत सिंह राजपूत के साथ किया वैसा ही भोजपुरी इंडस्ट्री खेसारी लाल यादव के साथ कर रही है।

अपनी बात रखते हुए खेसारी ने आगे कहा कि मुझे लगता है जितना सपोर्ट सुशांत को बॉलीवुड इंडस्ट्री से मिला था वही भर-भर के प्यार मुझे भोजपुरी इंडस्ट्री देने में लग गई है। आज कल मेरा नाम कोरोना पॉजिटिव की तरह हो गया है, अगर गलती से कहीं मेरा नाम ले लिया तो लोगों को परेशानी हो जाती है। पर कोई बात नहीं, मैं सुशांत के गांव से जरुर हूं लेकिन कमज़ोर नहीं हूं।

Click Here to read more here

पूरी खबर पढने के लिए यहाँ क्लिक करें |

Leave a Reply