खबर सुनें खबर सुनें अमित यादव रूस-यूक्रेन युद्ध संकट के बीच सोमवार को खार्किव से स्वदेश लौटे। हालांकि शुभम सिंह अभी भी यूक्रेन के सूमी में फंसे हुए हैं। जिले से 64 छात्र चिकित्सा की पढ़ाई के लिए यूक्रेन गए थे। सोमवार को क्वार्सी क्षेत्र के राजीव नगर निवासी मनवीर सिंह यादव का पुत्र अमित यादव यूक्रेन से लौटा है, वह यूक्रेन के खार्किव मेडिकल यूनिवर्सिटी में एमबीबीएस का पांचवां वर्ष का छात्र है. अमित 24 फरवरी से खार्किव के बंकर में रहकर अपने वतन लौटने की दुआ कर रहे थे। वह पिछले 48 घंटों में हंगरी के बुडापेस्ट हवाई अड्डे से हवाई मार्ग से मुंबई हवाई अड्डे तक पहुँचने में सफल रहे, जहाँ से सरकार उन्हें मुफ्त हवाई यात्रा करके दिल्ली हवाई अड्डे तक ले गई। उनके पिता मनवीर सिंह थाना दादों क्षेत्र के मनुआ पेदरा गांव के एक सरकारी स्कूल में प्रधानाध्यापक हैं. अमित के घर लौटने पर उनकी खुशी का कोई ठिकाना नहीं है। लगभग 650 भारतीय छात्र इस समय यूक्रेन के सूमी क्षेत्र में फंसे हुए हैं, जिन्हें भारत सरकार रूस के रास्ते वापस लाने का प्रयास कर रही है। संभवत: वह भी दो-तीन दिनों में भारत लौट आएंगे। इनमें अलीगढ़ छात्र शुभम सिंह पुत्र धर्मवीर सिंह निवासी रामबाग कॉलोनी। बहन युक्ति सिंह ने बताया कि भाई शुभम तृतीय वर्ष का छात्र है। शुभम अपने रिश्तेदार के संपर्क में है। रूस-यूक्रेन युद्ध संकट के बीच सोमवार को अमित यादव खार्किव से स्वदेश लौटे। हालांकि शुभम सिंह अभी भी यूक्रेन के सूमी में फंसे हुए हैं। जिले से 64 छात्र चिकित्सा की पढ़ाई के लिए यूक्रेन गए थे। सोमवार को क्वार्सी क्षेत्र के राजीव नगर निवासी मनवीर सिंह यादव का पुत्र अमित यादव यूक्रेन से लौटा है, वह यूक्रेन के खार्किव मेडिकल यूनिवर्सिटी में एमबीबीएस का पांचवां वर्ष का छात्र है. अमित 24 फरवरी से खार्किव के बंकर में रहकर अपने वतन लौटने की दुआ कर रहे थे। वह पिछले 48 घंटों में हंगरी के बुडापेस्ट हवाई अड्डे से हवाई मार्ग से मुंबई हवाई अड्डे तक पहुँचने में सफल रहे, जहाँ से सरकार उन्हें मुफ्त हवाई यात्रा करके दिल्ली हवाई अड्डे तक ले गई। उनके पिता मनवीर सिंह थाना दादों क्षेत्र के मनुआ पेदरा गांव के एक सरकारी स्कूल में प्रधानाध्यापक हैं. अमित के घर लौटने पर उनकी खुशी का कोई ठिकाना नहीं है। लगभग 650 भारतीय छात्र इस समय यूक्रेन के सूमी क्षेत्र में फंसे हुए हैं, जिन्हें भारत सरकार रूस के रास्ते वापस लाने का प्रयास कर रही है। संभवत: वह भी दो-तीन दिनों में भारत लौट आएंगे। इनमें अलीगढ़ छात्र शुभम सिंह पुत्र धर्मवीर सिंह निवासी रामबाग कॉलोनी। बहन युक्ति सिंह ने बताया कि भाई शुभम तृतीय वर्ष का छात्र है। शुभम अपने रिश्तेदार के संपर्क में है। ,

UttarPradeshLive.Com Home Click here

( News Source – News Input – Source )

( मुख्य समाचार स्रोत – स्रोत )

Subscribe to Our YouTube, Instagram and Twitter – TwitterYoutube and Instagram.

Leave a Reply